गुजिया पकाने की विधि

This post is also available in: English

गुजिया, एक क्लासिक भारतीय मिठाई है जो मेरी फेवरिट है । मुझे इसका मीठा और कुरकुरा स्वाद बहुत पसंद है । साधारण शब्दों में गुजिया सिर्फ खोया या मावा से भरा हुआ आटा का डम्पलिंग है। आप इसे दो तरीको से बना सकते हैं। यदि आप हल्का मीठा स्वाद पसंद करते हैं, तो आप डीप फ्राइड ग़ुजिया का सेवन कर सकते है और यदि आपको अतिरिक्त मीठा स्वाद चाहिए, तो आप चीनी के चाशनी में दुबे हुए फ्राइड गुजिया का लुत्फ़ उठा सकते है।

गुजिया के बारे में सबसे दिलचस्प बात यह है कि यह पूरे भारत में बनता है। हालांकि, उत्तर भारत में यह सबसे लोकप्रिय मिठाई व्यंजनों में से एक है। यह स्वादिष्ट पकवान महाराष्ट्र में गुघरा या करणजी के रूप में जाना जाता है, बिहार में पेडकिया, गोवा में नेवीज़, आंध्र प्रदेश के कज्जिकयालु और निश्चित रूप से उत्तर भारतीय क्षेत्र में घुजिया नाम से प्रचलित है।

गुजिया को आमतौर पर उत्सव के समय बनाया जाता है। दीपों का त्योहार, दीवाली हो या होली का त्यौहार, मेहमानो और दूसरों के लिए, गुजिया को हमेशा एक स्वादिष्ट पकवान के रूप में परोसा जाता है। पर मै इसे सिर्फ जश्न के समय ही नहीं, साधारण दिनों में भी बनाती हूँ क्योकि मुझे गुजिया खाना अच्छा लगता है। इसके अलावा, गुजिया उन व्यस्त माताओं के लिए एक बढ़िया विकल्प है जो जल्दी से अपने बच्चों के लिए कुछ स्वस्थ और स्वादिष्ट व्यंजन बनाना चाहती हैं। इसके पीछे कारण यह है कि गुजिया को तैयार करने के लिए लगभग ६० मिनट लगता हैं। आप इसे लगभग दो हफ्तों के लिए एक एयर टाइट कंटेनर में अच्छी तरह से संग्रहित कर सकते है।

गुजिया के बारे में एक और ख़ास बात यह है कि इसके भराई को आप अपने पसंद और वरीयता के अनुसार बना सकते है। उदाहरण के लिए, मैं अक्सर गुजिया के भराई के लिए मावे में नारियल पाउडर मिलाती हूं। इसी तरह, आप इलायची पाउडर, काजू के टुकड़े, पिस्ता स्ट्रिप्स और बादाम के स्लाइस का एक स्वादिष्ट भराई कर सकते हैं।

इसे आप दोपहर के लंच बॉक्स में या यात्रा के लिए पैक कर सकते है। आप गुजिया को किसी विशेष अवसर पर ही नहीं बल्कि अपने दोस्तों और पड़ोसियों को भी परोस सकते है। प्रत्येक अवसर पर और हर रूप में, घुजािया स्वादिष्ट लगता है और कभी भी आपके मूड को फ्रेश करता है।

गुजिया के स्वाद का रहस्य उसके भरावन में है। आप इस भरावन में विभिन्न स्वादिष्ट मेवे भरकर कई प्रयोग कर सकते हैं।

डम्पलिंग बनाने की प्रक्रिया उस व्यक्ति पर निर्भर करता है जो बनाता है। विभिन्न क्षेत्र में गुजिया बनाने की प्रक्रिया भी अलग होती है। कुछ लोग इसे पूरे गोलाकार बनाते है और कुछ आधे गोलाकार में। गुजिये को बंद करने के तरीके भी विभिन्न है। कुछ लोग मोल्ड्स का इस्तेमाल करते है और कुछ लोग हाथ का प्रयोग करते है। मैंने अपने गुजिये को 2 हैंड कट्स के तरीके से बंद किया है।

फ्राई करने के लिए, मैं एयर फ्रायर पसंद करती हूं क्योंकि यह हल्का और स्वास्थ्य के लिए अच्छा है।

Also Read: स्वीट राइस रेसिपी | गुढ़ के चावल

गुजिया पकाने की विधि

Course मिठाई
Cuisine Indian
Prep Time 10 minutes
Cook Time 50 minutes
Total Time 1 hour
Author प्रभात

Ingredients

भरावन

  • २०० ग्राम खोया / मावा
  • बड़ा चम्मच तेल / घी
  • ८ से १० काजू बारीक कटा हुआ
  • ८ से १० बादाम बारीक कटा हुआ
  • २५ ग्राम किशमिश
  • १०० ग्राम चीनी
  • ५० ग्राम सूजी
  • ५० ग्राम कसा हुआ नारियल

गुजिया शीट्स

  • ५०० ग्राम आल पर्पस फ्लॉर / मैदा
  • ५० ग्राम तेल / घी
  • १०० ग्राम दही
  • ½ चम्मच नमक

Instructions

भरावन

  1. एक पैन में तेल गरम करें और कटे हुए सूखे मेवों को हल्का से भुने।
  2. इसमें खोये के टुकड़े डाले और हल्के सुनहरे रंग तक भुने।
  3. किशमिश और कसा हुआ नारियल मिलाये और भुने।
  4. एक अलग पैन गरम करें और सूजी को हल्के सुनहरे रंग तक भुने।
  5. अब गर्म खोये मिश्रण में सूजी और चीनी दोनों को मिलाये और इसे ठंडा करें। चीनी गर्म मिश्रण में पिघलता है और पूरे मिश्रण को नम और भुरभुरा करता है जो भरावन के लिए अच्छा है।

गुजिया

  1. आल पर्पस फ्लॉर / मैदा को छानकर, उसमें तेल, नमक और दही मिलाये।
  2. लोई को नरम बनाने के लिए आटे को रोल करें और इसे गीले कपड़े के साथ कवर करें और 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
  3. लोई को छोटे बराबर भागों में विभाजित करें और पतली गोल शीट में रोलिंग पिन के साथ रोल करें।
  4. एक शीट को हाथ में ले और गुजिया शीट के आधे चक्र पर पानी लगा ले।
  5. एक बड़ा चम्मच मिश्रण डाले और एक आधा सर्कल बनाने के लिए शीट को बंद करें। पानी का उपयोग करके ग़ुज़िया को ठीक से सील करे।
  6. हाथ या मोल्ड का उपयोग करके सील्ड तरफ छोटे कट्स बना ले। इस प्रक्रिया के दौरान सभी गुजिये को गीली कपड़े से ढक ले ताकि इसकी नमी बरकरार रहे।
  7. अब आप एक एयर फ्रायर में इन्हे सूखा फ्राई कर सकते है या फिर गरम तेल में फ्राई कर सकते हैं।
  8. यदि आप एयर फ्राइंग कर रहे हैं, तो एयर फ्रीयर को १५० सी पर २० मिनट तक गरम कर ले। गुजियो पर तेल लगाए र लगभग २० मिनट के लिए एयर फ्रायर में रखे। प्रत्येक ५ मिनट के बाद इन्हे पलटे।

 

Add Comment

Besan Nankhatai Recipe
बेसन नानखताई रेसिपी
How to make Veg Colesaw Sandwich
वेज कोलस्लॉ सैंडविच रेसिपी
How to make Yakhni Pulao
यखनी पुलाव रेसिपी
Mushroom Pepper Fry cooking process
मशरुम पेप्पर फ्राई रेसिपी
shea-butter-benefits
१० कारण आपको क्यों शिया मक्खन का उपयोग करना चाहिए
चिया बीज और इसके स्वास्थ्य लाभ क्या हैं?
benefits of oolong tea
ओलॉन्ग टी और इसके स्वास्थ्य लाभ क्या है
13-health-benefits-of-carrot-juice
गाजर का रस के १३ स्वास्थ्य लाभ